Current Affairs : 25 April 2020

Daily Current GK Update

25 April, 2020

Powered by: – myonlinepathshala.com

Current Affairs In English

  1. Cabinet approves ordinance to amend Epidemic Diseases Act, 1897

The Union Cabinet has approved the promulgation of an Ordinance to amend the Epidemic Diseases Act, 1897. The above step has been taken to protect the healthcare service personnel as well as property including their living/working premises against the violence during epidemics. The promulgation of an Ordinance to amend the Epidemic Diseases Act, 1897 has been approved by the cabinet, keeping in view the recent instances of the most critical service providers i.e. members of healthcare services being targeted and attacked by miscreants, thereby obstructing them from doing their duties during the current COVID-19 pandemic.

  1. BRO builds bridge to link Kasowal enclave with rest of India

A new permanent bridge has been constructed by the Border Roads Organisation (BRO) to link Kasowal enclave in Punjab with rest of India. This new permanent bridge has been constructed on the river Ravi. The 484meter long bridge has been built by the 141 Drain Maintenance Coy of 49 Border Roads Task Force (BRTF) of Project Chetak. Hence, the new bridge will provide the local population and the Army an all weather connectivity to the enclave.

Earlier, the Kasowal enclave in Punjab was connected via pontoon bridge of limited load capacity and used to be dismantled every year prior to the Monsoon. Due to this reason, thousands of acres of fertile land across the river could not be tilled by farmers during the Monsoon.

  1. TCS BANCS to power Israel’s 1st fully Digital Bank

India’s IT giant, Tata Consultancy Services (TCS) will launch Israel’s first fully digital bank. The digital bank has not been named yet and will be launched in 2021. The digital banking operations platform will be powered by the TCS BANCS Global Banking Platform.

Israel’s Ministry of Finance selected TCS to transform its banking sector. TCS helps Israel to build a banking service bureau that would serve as a shared, plug-and-play, digital banking operations platform – powered by the TCS BANCS.

  1. National Panchayati Raj Day observed on 24 April

National Panchayati Raj Day observed on 24 April every year. The Ministry of Panchayati Raj organizes the National Panchayati Raj day or the National Local Self Government Day. India celebrates the first National Panchayati Raj Day or the National Local Government Day on April 2010.

On the occasion of National Panchayati Raj Day 2020, Prime Minister Narendra Modi will be launching the unified e-Gram Swaraj Portal and Mobile App. This is a new initiative of Ministry of Panchayati Raj which will provide the Gram Panchayats with a single interface to prepare and implement their Gram Panchayat Development Plan (GPDP).

  1. International Day of Multilateralism and Diplomacy for Peace

The International Day of Multilateralism and Diplomacy for Peace observed globally on 24 April. ‘International Day of Multilateralism and Diplomacy for Peace’ was first observed by the United Nations (UN) on April 24, 2019.

The Assembly proclaimed the day while considering that preserving the values of multilateralism and international cooperation is fundamental to promote and support the three pillars of the UN – Peace and Security, Development and Human Rights. The Day is a reaffirmation of the UN Charter and its principles of resolving disputes among countries through peaceful means.

  1. CSIR-IGIB develops “Feluda” low-cost COVID-19 test strip

Council of Scientific and Industrial Research (CSIR) Institute of Genomics and Integrative Biology (IGIB) has developed “Feluda” a low-cost COVID-19 test strip. It was developed by two scientists Dr Souvik Maiti and Dr Debojyoti Chakraborty.

The test is expected to cost around Rs 500 against the usual RT-PCR test that costs Rs 4,500 in private labs. The test gets its name after the detective character in legendary filmmaker Satyajit Ray’s stories as it will detect the presence of a virus in just a few minutes.

  1. IIIT-Delhi develops ‘WashKaro’ app to warn about COVID-19

Indraprastha Institute of Information Technology (IIITDelhi) has developed a mobile app named ‘WashKaro’. This mobile app helps to warn the people about a coronavirus containment zone nearby and helps them check whether a news item about the pandemic is genuine or fake.

The app was developed by professor Ponnurangam Kumaraguru and Dr Tavpritesh Sethi of the Indraprastha Institute of Information Technology (IIIT-Delhi) along with five students. The research team had also presented the app at the World Health Conference in Geneva through video conferencing. Washkaro aims to provide the right information to people in the right format at the right time. It uses Bluetooth technology for communication and does not need internet or location services.

  1. Karnataka govt launches “Apthamitra” app and helpline number

Karnataka government has launched “Apthamitra” app and exclusive toll-free helpline number 14410. This facility is provided to empower the people of the state in the fight against COVID-19.

The application aims at providing medical guidance and advice on COVID-19. The Apthamitra helpline dedicated to deal with only COVID-19-related queries including telemedicine, counselling and facilitating testing and treatment for those in need. The two platforms will help to reach out to people, especially those staying in Corona hotspot areas, to identify those having influenza like illness (ILI), Severe Acute Respiratory Infection (SARI), COVID-19-like symptoms or having a high risk of getting infected.

Current Affairs In Hindi

  1. मंत्रिमंडल ने महामारी रोग अधिनियम, 1897 में संशोधन के लिए अध्यादेश को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने महामारी रोग अधिनियम, 1897 में संशोधन करने के लिए एक अध्यादेश की घोषणा को मंजूरी दे दी है। स्वास्थ्य सेवा कर्मियों के साथ-साथ महामारी के दौरान हिंसा के खिलाफ उनके रहने / काम करने वाले परिसर सहित संपत्ति की सुरक्षा के लिए उपरोक्त कदम उठाया गया है। महामारी रोग अधिनियम, 1897 में संशोधन करने के लिए एक अध्यादेश की घोषणा कैबिनेट द्वारा अनुमोदित की गई है, सबसे महत्वपूर्ण सेवा प्रदाताओं के हालिया उदाहरणों को ध्यान में रखते हुए अर्थात स्वास्थ्य सेवाओं के सदस्यों को उपद्रवियों द्वारा लक्षित और हमला किया जा रहा है, जिससे उन्हें वर्तमान COVID-19 महामारी के दौरान कार्य करने में बाधा उत्पन्न हो रही है।

  1. बीआरओ (BRO) ने कासोवाल एन्क्लेव को शेष भारत से जोड़ने के लिए पुल का निर्माण किया

सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) द्वारा पंजाब में शेष भारत के साथ कसोवाल एन्क्लेव को जोड़ने के लिए एक नए स्थायी पुल का निर्माण किया गया है। इस नए स्थायी पुल का निर्माण रावी नदी पर किया गया है। 484 मीटर लंबे पुल को प्रोजेक्ट चेतक की 49 बॉर्डर रोड्स टास्क फोर्स (BRTF) के 141 ड्रेन मेंटेनेंस कॉय द्वारा बनाया गया है। इसलिए, नया पुल स्थानीय आबादी और सेना को एन्क्लेव के लिए मौसम संबंधी सभी कनेक्टिविटी प्रदान करेगा।

इससे पहले, पंजाब में कासोवाल एन्क्लेव को सीमित भार क्षमता के पंटून पुल के माध्यम से जोड़ा गया था और हर साल मानसून से पहले नष्ट कर दिया जाता था। इस कारण से, मानसून के दौरान नदी के पार हजारों एकड़ उपजाऊ भूमि किसानों द्वारा खेती नहीं की जा सकती थी।

  1. TCS BANCS, इजरायल का पहला पूर्ण डिजिटल बैंक बनाएगी

भारत की आईटी दिग्गज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) इजरायल का पहला पूरी तरह से डिजिटल बैंक लॉन्च करेगी। डिजिटल बैंक का नाम अभी तक नहीं दिया गया है और इसे 2021 में लॉन्च किया जाएगा। डिजिटल बैंकिंग ऑपरेशंस प्लेटफॉर्म TCS BANCS ग्लोबल बैंकिंग प्लेटफॉर्म द्वारा संचालित किया जाएगा।

इज़राइल के वित्त मंत्रालय ने अपने बैंकिंग क्षेत्र को बदलने के लिए TCS का चयन किया। टीसीएस इसराइल को एक बैंकिंग सेवा ब्यूरो बनाने में मदद करता है जो टीसीएस BANCS द्वारा संचालित – साझा, प्लग-एंड-प्ले, डिजिटल बैंकिंग संचालन मंच के रूप में काम करेगा।

  1. 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस मनाया गया

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस हर साल 24 अप्रैल को मनाया जाता है। पंचायती राज मंत्रालय राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस या राष्ट्रीय स्थानीय स्वशासन दिवस का आयोजन करता है। भारत अप्रैल 2010 को पहला राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस या राष्ट्रीय स्थानीय सरकार दिवस मनाता है।

राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस 2020 के अवसर पर, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी एकीकृत ई-ग्राम स्वराज पोर्टल और मोबाइल ऐप लॉन्च करेंगे। यह पंचायती राज मंत्रालय की एक नई पहल है जो ग्राम पंचायतों को अपनी ग्राम पंचायत विकास योजना (GPDP) को तैयार करने और कार्यान्वित करने के लिए एकल इंटरफ़ेस प्रदान करेगी।

  1. शांति के लिए बहुपक्षवाद और कूटनीति का अंतर्राष्ट्रीय दिवस

शांति के लिए अंतर्राष्ट्रीय बहुपक्षवाद और कूटनीति का अंतर्राष्ट्रीय दिवस 24 अप्रैल को विश्व स्तर पर मनाया गया। इंटरनेशनल डे ऑफ मल्टीलैटलिज़्म एंड डिप्लोमेसी फॉर पीस पहली बार संयुक्त राष्ट्र (यूएन) द्वारा 24 अप्रैल, 2019 को मनाया गया था।

असेंबली ने इस दिन पर विचार किया कि बहुपक्षवाद और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के मूल्यों को संरक्षित करना संयुक्त राष्ट्र के तीन स्तंभों – शांति और सुरक्षा, विकास और मानवाधिकार को बढ़ावा देने और समर्थन करने के लिए मौलिक है। यह दिवस संयुक्त राष्ट्र चार्टर के एक पुनर्मूल्यांकन है और शांतिपूर्ण तरीकों से देशों के बीच विवादों को हल करने के अपने सिद्धांतों का है।

  1. सीएसआईआर-आईजीआईबी ने “फेलुदा” कम लागत वाली COVID-19 परीक्षण पट्टी विकसित की

काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च (CSIR) इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (IGIB) ने “फेलुदा” एक कम लागत वाली COVID-19 टेस्ट स्ट्रिप विकसित की है। यह दो वैज्ञानिकों डॉ. सौविक मैती और डॉ. देवज्योति चक्रवर्ती द्वारा विकसित किया गया था।

प्राइवेट लैब में 4,500 रुपये खर्च करने वाले सामान्य RT-PCR टेस्ट के मुकाबले टेस्ट में लगभग 500 रुपये खर्च होने की उम्मीद है। महान फिल्मकार सत्यजीत रे की कहानियों में जासूसी चरित्र के बाद इस परीक्षण को अपना नाम मिल गया क्योंकि यह कुछ ही मिनटों में एक वायरस की उपस्थिति का पता लगाएगा।

  1. IIIT- दिल्ली COVID-19 के बारे में आगाह करने के लिए ‘WashKaro’ ऐप विकसित करता किया

इंद्रप्रस्थ सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (IIIT-Delhi) ने WashKaroनाम से एक मोबाइल ऐप विकसित किया है। यह मोबाइल ऐप लोगों को पास में एक कोरोनोवायरस कंटेंट ज़ोन के बारे में चेतावनी देने में मदद करता है और उन्हें यह जांचने में मदद करता है कि क्या महामारी के बारे में एक समाचार आइटम असली या नकली है।

ऐप को पांच छात्रों के साथ इंद्रप्रस्थ इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (IIIT-Delhi) के प्रोफेसर पोन्नुरंगम कुमारगुरु और डॉ. तवप्रितेश सेठी द्वारा विकसित किया गया है। रिसर्च टीम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जिनेवा में विश्व स्वास्थ्य सम्मेलन में ऐप भी पेश किया था। वाशकारो का उद्देश्य सही समय पर सही प्रारूप में लोगों को सही जानकारी प्रदान करना है। यह संचार के लिए ब्लूटूथ तकनीक का उपयोग करता है और इसे इंटरनेट या स्थान सेवाओं की आवश्यकता नहीं है।

  1. कर्नाटक सरकार ने “Apthamitra” ऐप और हेल्पलाइन नंबर लॉन्च किया

कर्नाटक सरकार ने “आप्तमित्र” ऐप और अन्य टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 14410 लॉन्च किया है। यह सुविधा राज्य के लोगों को COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में सशक्त बनाने के लिए प्रदान की गई है।

आवेदन COVID-19 पर चिकित्सा मार्गदर्शन और सलाह प्रदान करना है। टेलीमेडिसिन, परामर्श और जरूरत के लिए परीक्षण और उपचार की सुविधा सहित केवल COVID-19-संबंधित प्रश्नों से निपटने के लिए समर्पित Apthamitra हेल्पलाइन। दो प्लेटफ़ॉर्म लोगों तक पहुंचने में मदद करेंगे, ख़ासकर कोरोना हॉटस्पॉट क्षेत्रों में रहने वालों की पहचान करने के लिए, जिनमें इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारी (ILI), सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इन्फेक्शन (SARI), COVID-19 जैसे लक्षण हों और उनमें संक्रमित होने का उच्च जोखिम हो।

Facebook Comments